ACB की कार्रवाई : ग्राम विकास अधिकारी रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार

0
hellobikaner.in

आवास एवं अन्य ठिकानों पर तलाशी जारी

 

जयपुर hellobikaner.in ए.सी.बी. मुख्यालय के निर्देश पर सवाईमाधोपुर इकाई द्वारा आज गंगापुरसिटी में कार्यवाही करते हुये बनवारीलाल गुप्ता प्रशासक कम ग्राम विकास अधिकारी, ग्रा.पं. महानन्दपुर डोड्या, पं.स. गंगापुरसिटी, जिला सवाईमाधोपुर को परिवादी से 4 हजार रूपये की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है।

 

 

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो के महानिदेशक भगवान लाल सोनी ने बताया कि ए.सी.बी. की सवाईमाधोपुर इकाई को परिवादी द्वारा शिकायत दी गई कि कैटलशेड योजना के अन्तर्गत खाते में कार्य पूर्ण होने के पश्चात भुगतान स्वीकृत करवाने की एवज में बनवारीलाल गुप्ता प्रशासक कम ग्राम विकास अधिकारी, ग्रा.पं. महानन्दपुर डोड्या, पं.स. गंगापुरसिटी, जिला सवाईमाधोपुर द्वारा 10 हजार रूपये रिश्वत राशि की मांग कर परेशान किया जा रहा है।

 

 

जिस पर एसीबी की सवाईमाधोपुर इकाई के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुरेन्द्र कुमार शर्मा के नेतृत्व में शिकायत का सत्यापन किया जाकर आज उनकी टीम के साथ ट्रेप कार्यवाही करते हुये बनवारीलाल गुप्ता पुत्र हजारीलाल गुप्ता निवासी श्रीराम विद्यालय के पास, सूरसागर, गंगापुरसिटी, जिला सवाईमाधोपुर हाल प्रशासक कम ग्राम विकास अधिकारी, ग्रा.पं. महानन्दपुर डोड्या, पं.स. गंगापुरसिटी, जिला सवाईमाधोपुर को परिवादी से 4 हजार रूपये की रिश्वत राशि लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया है।

 

 

 

एसीबी के अतिरिक्त महानिदेशक दिनेश एम. एन. के निर्देशन में आरोपी से पूछताछ जारी है। एसीबी द्वारा मामले में भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के अन्तर्गत प्रकरण दर्ज कर  अग्रिम अनुसंधान किया जायेगा।

 

 

जलदाय विभाग के दो कनिष्ठ अभियंता रिश्वत लेते गिरफ्तार

जयपुर hellobikaner.in राजस्थान के बूंदी में जलदाय विभाग के दो कनिष्ठ अभियंताओं को भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की टीम ने आज साढे 11 हजार रुपए की रिश्वत लेने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया।


ब्यूरो के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ठाकुर चंद्रशील कुमार ने बताया कि फ़रियादी मोहम्मद शाहिद हुसैन ने ब्यूरो को शिकायत की थी कि उसकी फर्म में बूंदी में पाइप लाइन बिछाने काम जलदाय विभाग में किया था जिसका चार लाख 80 हजार रुपए के बिल का भुगतान बकाया था। इस बिल के भुगतान के एवज में से जलदाय विभाग के दो कनिष्ठ अभियंता पवन राठौर और राजेंद्र सैनी उससे कमीशन के रूप में साढे 11 हजार रुपए की रिश्वत की मांग कर रहे हैं। छह मई को की गई इस शिकायत के सत्यापन के बाद भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने उसे सही पाया।


ब्यूरो ने आज फरियादी मोहम्मद शाहिद हुसैन को रिश्वत की साढे 11 हजार रुपये के साथ कनिष्ठ अभियंता पवन राठौर की ओर से तय किए गए एक होटल पर भेजा जहां रिश्वत की राशि लेते ही ब्यूरो की टीम ने छापा मारकर उसे गिरफ्तार कर लिया। बाद में अभियंता राजेंद्र सैनी को भी ब्यूरो ने हिरासत में ले लिया।

Like Subscribe and Share