बीकानेर : भागवत कथा में पंडित आचार्य ने बताया रासलीला का महत्व

0
hellobikaner.in

बीकानेर hellobikaner.in धर्मनगरी या छोटी काशी के नाम से पहचाने जाने वाला शहर बीकानेर में बारह महीनों धार्मिक आयोजन होते रहते है। कही पाठ तो कही जागरण का दौर चलता रहता है इसी क्रम में बीकानेर के गोपीनाथ भवन में भागवत कथा चल रही है।

इस भागवत कथा का वाचन बीकानेर के ही पंडित जितेंद्र आचार्य कर रहे है हालांकि पंडित जितेंद्र कोलकाता में रहते है। इस कथा में भजन गीत बीकानेर के सुप्रसिद्ध गायक नवीन आचार्य द्वारा पेश किए जा रहे है। आज की भागवत कथा में पंडित जितेंद्र आचार्य ने रासलीला का महत्व बताते हुए बताया कि रास में प्रेमी कृष्ण है और प्रेयसी प्रियतमा गोपियाँ है।

भगवान ने अपनी भगवत्ता को दाँव पर लगा कर गोपियों को अपनी और आकृष्ट किया और बताया कि गोपियों के हृदय में काम नहीं है गोपिया तो निष्काम प्रेमी है और उसके पश्चात कंस वध का वर्णन बताया फिर जरासंध का वध व रुक्मिणी विवाह की कथा का प्रसंग का वर्णन किया।

Like Subscribe and Share