श्रीगंगानगर hellobikaner.in राजियासर के निकट दुर्घटना की जानकारी मिलते ही जिला कलेक्टर महावीर प्रसाद वर्मा व पुलिस अधीक्षक राजन दुष्यंत मौके पर पहुँचे और उन्होंने घटना स्थल का मुआयना किया तथा घायलों को हर संभव सहायता देने के लिए व्यवस्थाएं सुनिश्चित के दुर्घटनास्थल पर ही जिला कलेक्टर ने निर्देशित किया कि घायलों को किसी प्रकार की भी असुविधा नहीं हो।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. गिरधारी लाल ने बताया कि शनिवार को एनएच 62 पर पुलिस थाना राजियासर से टोल की तरफ करीब आधा किलोमीटर पर एक क्रूजर व ट्रोला में भिड़न्त हो जाने से हादसे में क्रूजर में सवार नागरिकों के गंभीर चोटें आई। हादसे में क्रूजर में 13 लोग सवार थे। जिनमें रामदयाल पुत्र हेतराम जाट निवासी किशनपुरा उत्तराधा तहसील संगरिया, सुभाष पुत्र हेतराम, अनीता पुत्री रामदयाल, पीयूष पुत्र शिव प्रकाश, भविष्य पुत्र विकास, शुभम पुत्र सुभाष, रेखा पुत्री सुभाष, मोहन पुत्रा रामदयाल, आरजू पत्नी शुभम, सोनिया पत्नी सुभाष, सुमन पत्नी शिव प्रकाश, मंजू पत्नी विकास जाति जाट निवासी किशनपुरा उत्तराद्वा सवार थे। जिनमें से भविष्य, आरजू, सोनीयां, सुमन पत्नी शिव प्रकाश मंजू पत्नी विकास व चालक अनिल पुत्र सुखराम निवासी धींगतानिया सादुलशहरकी मौत हो गई व अन्य सभी को बाद प्राथमिक उपचार कर सीएससी राजियासर से श्री गंगानगर रेफर कर दिया गया है। उपचाराधीन सभी घायलों की हालत में निरन्तर सुधार हो रहा है।

इस दुर्घटना में घायलों को सही उपचार मिले इसकों लेकर जिला कलक्टर महावीर प्रसाद वर्मा व जिला पुलिस अधीक्षक राजन दुष्यन्त श्रीगंगानगर के निजी अस्पताल में उपचाराधीन घायलों से मिले तथा चिकित्सकों को अच्छे उपचार करने के निर्देश दिए।

जिला कलक्टर व पुलिस अधीक्षक श्रीगंगानगर के मिश्रा होस्पीटल में राजियासर के पास हुई दुर्घटना में घायल हुए उपचाराधीन सभी पीड़ितों से एक-एक कर मिले तथा उन्हें आशस्त किया कि उपचार अच्छी तरह से होगा। राजकीय चिकित्सालय जिला प्रशासन की ओर से पूरा सहयोग रहेगा। जिला कलक्टर ने सीएमएचओ डाॅ. गिरधारी लाल को भी निर्देश दिए कि दुर्घटना में घायलों का भली प्रकार से उपचार हो तथा हर प्रकार की मदद की जाए।