चूरू hellobikaner.in (मदनमोहन आचार्य) सादुलपुर तहसील के गांव ढाणी मौजी में 5 फरवरी के दोपहर बाद खूनी गैंगवार हुई है, जिसमें 4 जनों की मौत हो गई है, जबकि दो जने गंभीर रूप से घायल हुए हैं। हालांकि घायलों की संख्या ज्यादा बताई जा रही है, मगर समाचार लिखे जाने तक दो घायल राजगढ़ के राजकीय रेफरल अस्पताल में पहुंचे हैं, जिन्हें तत्काल यहां से रेफर कर दिया गया मिली।

जानकारी के अनुसार ढाणी मौजी में अजय जैतपुरा के निकटतम साथी प्रदीप स्वामी आदि पर यह जानलेवा हमला किया गया। अंधाधुंध फायरिंग में हमीरबास थाने के हिस्ट्रीशीटर रहे प्रदीप स्वामी सहित ढाणी मौजी के निहाल सिंह और ईश्वर तथा हमलावरों में का एक साथी भी गोलियों का शिकार होकर मौके पर ही दम तोड़ गए। इस गैंगवार में एक निर्दोष ग्रामीणों को भी गोली लगी बताई गई है, जबकि एक हमलावर को भागते समय ग्रामीणों ने पकड़ कर पिटाई की उसे भी घायलावस्था में राजगढ़ के राजकीय रेफरल अस्पताल में लाया गया। घटना की सूचना मिलते ही हमीरवास और राजगढ़ के पुलिस अधिकारी तथा पुलिस दल मौके पर पहुंच गए मगर अभी तक कोई हमलावर पुलिस के हाथ नहीं लगा है।

ग्रामीण सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार हमलावर गाड़ी में आए थे जिनकी संख्या 7-8 से भी ज्यादा बताई जा रही है। उनके द्वारा अंधाधुंध फायरिंग की गई एवं बचाव में प्रदीप स्वामी गुट के लोगों द्वारा भी फायरिंग की गई बताते हैं और उससे एक हमलावर मौके पर ही खत्म हो गया।

एक अपुष्ट जानकारी यही यह भी मिल रही है कि हमलावरों ने एक काले रंग की पल्सर मोटरसाइकिल का भी उपयोग किया है। हालांकि अभी इस बात की पुष्टि नहीं हो पा रही है, मगर मिली जानकारी के अनुसार यह पल्सर मोटरसाइकिल 4 फरवरी की रात को ही हंसियावास गांव से चुराई गई है, जिसका मुकदमा हमीरवास थाने में भी दर्ज हुआ है।