नरेगा में व्यक्तिगत लाभ के कार्याे के प्रति नहीं ले रही, ग्राम पंचायते रूचि

0
hellobikaner.in

श्रीगंगानगर, hellobikaner.in जिले में महात्मा गांधी नरेगा योजनान्तर्गत व्यक्तिगत लाभ के कार्याे के 1720 लक्ष्य के विरूद्व प्रस्ताव तैयार करने के प्रति ग्राम पंचायते के रूचि न दिखाने के कारण लाभार्थियो को अपेक्षित लाभ नहीं मिल पा रहा है।

 

जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी मुहम्मद जुनैद ने बताया कि महात्मा गांधी नरेगा योजनान्तर्गत व्यक्तिगत लाभ के कार्याे के प्राप्त लक्ष्य के अनुरूप पंचायत समित श्रीगंगानगर के 265 कार्य, श्रीकरणपुर 175, पदमपुर 180, रायसिहनगर 235, श्रीविजयगर 145, अनूपगढ 160, घडसाना 180, सूरतगढ 245, सादूलशहर 135 सहित कुल 1720 व्यक्तिगत कार्याे का लक्ष्य जिले का निर्धारित किया गया है।

 

 

पात्र लाभार्थियो के कार्याे के प्रस्ताव प्राप्त कर पंचायत समिति स्तर पर ऑनलाईन पोर्टल पर अपलोड किया जाना है। इसके लिये जिला स्तर से निर्देश जारी कर पंचायत समिति व ग्राम पंचायत स्तर पर मॉनिटरिग हेतु कार्मिक लगाकर समन्वय स्थापित कर कार्याे की स्वीकृति जारी कर पात्र लाभार्थी को लाभ देने के निर्देश जारी किये गये हैं।

 

 

उन्होंने बताया कि महात्मा गांधी नरेगा योजनान्तर्गत व्यक्तिगत लाभ के कार्याे हेतु विभिन्न केटेगिरी अन्तर्गत अधिकतम तीन लाख रूपये के लाभ पात्र लाभार्थी को दिये जाने के राज्य स्तर से निर्देश प्राप्त हुए है। इसके अन्तर्गत केैटल शेड निर्माण, डिग्गी निर्माण, टांका निर्माण, सहायक कृषि नाली निर्माण कार्य, फार्म पोड, बागवानी कार्य, सैरीकल्चर के कार्याे को पात्र लाभार्थी जिनमें अनुसूचित जाति, जनजाति, घुमन्तु जनजाति, अधिसूचना से निकाली गयी जनजातिया, गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले, महिला प्रधान, शारीरिक रूप से विकंलाग परिवार प्रधान, भूमि सुधारों के फायदाग्राही, इंदिरा आवास योजना के फायदाग्राही, लधु व सीमांत किसान को व्यक्तिगत लाभ का फायदा प्राप्त हो सकता है।

 

समय-समय पर आयोजित बैठक में समस्त विकास अधिकारी को प्रत्येक ग्राम पंचायत से व्यक्तिगत लाभ के 5-5 कार्याे को चिन्हित कर प्रस्ताव तैयार कर पात्र लाभार्थियो को लाभ देने के निर्देश के बावजूद भी ग्राम पंचायत स्तर पर आमजन से कम्यूनिकेशन गैप के चलते पात्र लाभार्थियो को लाभ नहीं मिल पा रहा है।

Like Subscribe and Share