बीकानेर abhayindia.com उच्च शिक्षा मंत्री भंवर सिंह भाटी के नेतृत्व में किसान आंदोलन के समर्थन में बीकानेर जिले के कोलायत विधानसभा क्षेत्र में सांखला फांटा से कोलायत अम्बेडकर सर्किल तक पैदल मार्च का आयोजन किया गया। जिसे सम्बोधित करते हुये मंत्री भाटी ने केन्द्र की भाजपा सरकार को चेतावनी देते हुए कहा किसानों का यह आंदोलन एवं किसानो के दिलो से निकली यह आवाज परिवर्तन का ऐसा सैलाब लायेगी जिसमें प्रधानमंत्री मोदी एवं गृह मंत्री अमित शाह की जिद व अडियल रवैया टिक नहीं पायेगा, उन्हे किसान विरोधी यह काले कानून वापस लेने ही होंगे।

पैदल मार्च में उमड़ा जन सैलाब:- कोलायत सांखला फांटा से रवाना हुए पैदल मार्च में हजारो की संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता एवं किसान उमड़ पड़े। सड़क मार्ग पर कोलायत तक कांग्रेस कार्यकर्ता किसान एवं आम जनता नजर आयें जिसमें युवा एवं महिलाओं की भी बढ़ी भागेदारी रही किसानों व कार्यकत्र्ताओं का जोश परवान पर था लगातार केन्द्र सरकार के विरोध एवं किसान आंदोलन के समर्थन में नारेबाजी चल रही थी।

अम्बेड़कर सर्किल कोलायत पर हुई जनसभा:- पैदल मार्च का समापन कोलायत के हृदय स्थल अम्बेड़कर सर्किल पर हुआ जहाँ यह विशाल जनसभा में परिवर्तित हो गया। जनसभा को सम्बोधित करते हुए उच्च शिक्षा मंत्री भाटी ने कहा पिछले 3 महिने से किसान अपना घर-बार छोड़ कर अपनी जमीन एवं उपज बचाने हेतु केन्द्र सरकार द्वारा लाये गये 3 काले कृषि कानूनो को वापस लेने हेतु संघर्षरत है, 200 से अधिक किसानों की इन धरना प्रदर्शनों में मौत हो चुकी है, मगर मोदी व अमित शाह को इसकी कोई परवाह नहीं है, वे किसानों को बर्बाद करने का प्रण कर चुके है, आज देश के आम आदमी को यह बात समझ आ चुकी है कि, यह कृषि कानून किसी भी रूप में किसान हित में नहीं है, मगर केन्द्र सरकार इन बिलों को वापस लेने के लिये तैयार नहीं है, लेकिन आज देश की जनता एवं कांग्रेस पार्टी किसानों के साथ तन-मन-धन से कंधे से कंधा मिलाकर खड़ी है। राहुल गांधी, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत प्रदेश अध्यक्ष गोविन्द डोटासरा एवं प्रदेश के समस्त कांग्रेस नेता एवं कार्यकत्र्ता जब तक केन्द्र सरकार इन कृषि बिलो को वापस नहीं ले लेती किसानो की आवाज बनकर गरजेंगे हमे किसानो के साथ दिल्ली जाना होगा तो हम वहां भी जायेगे।

जनसभा को बीकानेर प्रभारी एवं मसूदा विधायक राकेश पारीक, पूर्व नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी जिला प्रमुख मोडाराम मेघवाल, देहात अध्यक्ष महेन्द्र गहलोत, शहर अध्यक्ष यथपाल गहलोत आदि ने भी सम्बोंधित किया, सभी ने एक सुर में केन्द्र सरकार द्वारा लाये गये कृषि बिलो को किसान एवं कृषि विरोधी तथा उद्योगपत्तियों के समर्थन में बताते हुये इन्हें वापस लेने का आवाह्न किया तथा प्रण किया कि जब तक सरकार इन कृषि बिलो को वापस नहीं ले लेती तब तक कांग्रेस पार्टी किसानों के आंदोलन को हर संभव मदद एवं समर्थन प्रदान करेगी।

किसान आंदोलन में जान गंवाने वाले किसानों को श्रद्धांजलि:- जनसभा में उपस्थित समस्त नेताओं, कार्यकत्र्ताओं किसानों एवं आमजन ने पिछले 3 महिने से जबरदस्त  ठण्ड में खुले आकाश के नीेचे पड़े किसान योद्वाओ एवं आंदोलन में जान गवाने वाले किसानों को शहीद का सम्मान देते हुऐ उन्हें श्रद्धांजलि भी अर्पित की तथा कहा यह बलिदान व्यर्थ नहीं जायेगा तथा मोदी सरकार को प्रत्येक जान की कीमत चुकानी होगी।

भाटी के आवाह्न पर सम्पूर्ण जिला कांग्रेस पहुंची कोलायत:- कोलायत में आयोजित इस पैदल मार्च की खास बात यह रही कि इसमें जिले की ग्रामीण राजनीति के अधिकांश नेता कार्यकर्ता इसमें नजर आये, पूर्व नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी, जिला प्रमुख मोडाराम, जिला देहात अध्यक्ष महेन्द्र गहलोत, शहर अध्यक्ष यशपाल गहलोत, पूर्व जिला देहात अध्यक्ष लक्ष्मण कड़वासरा, पूर्व जिला प्रमुख पूर्णाराम मेघवाल, पूर्व जिला परिषद् सदस्य गणपत राम महिला कांग्रेस जिलाध्यक्ष सुनीता गौड, कोलायत प्रधान पुष्पा देवी सेठिया, देशनोक चेयरमेन ओम प्रकाश मूंधड़ा, कोलायत ब्लाॅक अध्यक्ष रूपाराम जिला परिषद सदस्य मोहनदान, मदन चैहान, देहात महामंत्री शिवलाल गोदारा, अनेको सरपंच वर्तमान एवं पूर्व जिला परिषद एवं पंचायत समिति सदस्य आदि उपस्थित रहें।