इस बुधवार मंडल की योजनाओं में आवास खरीदने के लिए आम लोगों में दिख रहा भारी क्रेज,

इस बुधवार बिकीं 315 सम्पत्तियां, मिला 55 करोड़ 11 लाख रूपये का राजस्व,

जयपुर में मण्डल के आवास खरीदने के लिये मची होड़, बिके 245 आवास मिला 41 करोड रूपये का राजस्व,

5 प्रीमियम सम्पत्तियों के विक्रय से मिला 2 करोड 17 लाख रूपये का राजस्व,

2 हजार 985 नए आवासों को भारी छूट के साथ किया गया था योजना में शामिल,

 

जयपुर hellobikaner.in आवासन आयुक्त पवन अरोड़ा ने बताया कि बुधवार नीलामी उत्सव ई-बिड सबमिशन योजना में जोडे गये नये आवासों को खरीदने के लिये जबरदस्त उत्साह दिखाई दिया। इस गुरूवार को प्रदेश में 315 सम्पत्तियां बिकीं, जिससे मण्डल को 55 करोड़ 11 लाख रूपये का राजस्व मिला। इस बुधवार को राजकीय अवकाश होने के कारण बिड प्रस्ताव गुरूवार सायंकाल 4.00 बजे तक प्राप्त कर इसी दिन 4.30 बजे खोली गई।

 

उन्होेंने बताया कि मण्डल की आवासीय व व्यावसायिक सम्पत्तियां कोविड-19 महामारी के इस दौर में भी लोगों का आकर्षण का केन्द्र बनी हुई है। कोविड-19 महामारी के इस दौर में प्रत्येक व्यक्ति का सपना है कि उसका अपना घर हो। मण्डल द्वारा इस दिशा में पहल करते हुए पूर्ण विकसित कॉलोनियों में आवास/फ्लैट बाजार दरों से 2 से 3 गुना कम कीमत पर उपलब्ध करवाए जा रहे है।

 

 

जयपुर में बिके 245 आवास मिला 41 करोड रूपये का राजस्व

 

योजना के पहले बुधवार को ही जयपुर में मण्डल के आवास खरीदने के भारी उत्साह देखने को मिला। इस बुधवार को जयपुर में 245 आवास बिक गये, जिससे मण्डल को 41 करोड रूपये का राजस्व मिला।

 

 

जयपुर के इंदिरा गांधी नगर में 33 फ्लैट बिके जिससे मण्डल को 6 करोड 32 लाख रूपये का राजस्व मिला। इसी तरह एमजीडी वीकेंड होम नायला में 23 आवास बिके जिससे मण्डल को 2 करोड 76 लाख रूपये का राजस्व मिला। वहीं मानसरोवर योजना में 23 आवासों के विक्रय से 9 करोड 87 लाख रूपये का राजस्व मिला।

 

 

अरोड़ा ने बताया कि जयपुर वृत्त प्रथम, द्वितीय और तृतीय में 245 सम्पत्तियां बिकी, जिससे मण्डल को 41 करोड़ रूपये का राजस्व मिला, जोधपुर वृत्त प्रथम और द्वितीय में 18 सम्पत्तियां बिकी, जिससे मण्डल को 3 करोड़ 5 लाख रूपये का राजस्व मिला, कोटा वृत्त में 5 सम्पत्तियां बिकी, जिससे मण्डल को 61 लाख 14 हजार रूपये का राजस्व मिला, बीकानेर वृत्त में 6 सम्पत्तियां बिकी, जिससे मण्डल को 26 लाख 18 हजार रूपये का राजस्व मिला, उदयपुर वृत्त में 19 सम्पत्तियां बिकी, जिससे मण्डल को 4 करोड 45 लाख रूपये का राजस्व मिला और अलवर वृत्त में 22 सम्पत्तियां बिकी, जिससे मण्डल को 4 करोड़ 86 लाख रूपये का राजस्व मिला।

 

 

मानसरोवर के द्वारका अपार्टमेंट में एक ही दिन में बिके 22 फ्लैट, मिला 9 करोड 73 लाख रूपये का राजस्व

 

राजस्थान आवासन मण्डल की मानसरोवर योजना में स्थित द्वारका अपार्टमेंट के सभी 22 फ्लैट पहले ही बुधवार को बिक गये। इनके विक्रय से मण्डल को 9 करोड 73 लाख रूपये का राजस्व प्राप्त हुआ। उल्लेखनीय है कि इन फ्लैटों को लेने के लिये कुल 326 लोगों ने ई-बिड में भाग लिया था। इस अपार्टमेंट के अधिकांश फ्लैट अपने न्यूनतम विक्रय मूल्य से अधिक कीमत में बिके।

 

 

इंदिरा गांधी नगर में एक फ्लैट को लेने के लिये 87 लोगों ने लगाई बोली
आयुक्त ने बताया कि इंदिरा गांधी नगर योजना में स्थित नीलकंठ अपार्टमेंट के एक फ्लैट को लेने के लिये 87 लोगों ने बोली लगाई।

 

 

मानसरोवर में एक मकान को खरीदने के लिये 60 लोगों ने लगाई बोली
राजस्थान आवासन मण्डल की मानसरोवर योजना में स्वर्ण पथ पर स्थित आवास संख्या 43/5/10 को खरीदने के लिये 60 लोगों ने बोली लगाई। इस मकान का न्यूनतम विक्रय मूल्य 5 लाख 31 हजार रूपये रखा था जबकि यह मकान 14 लाख 9 हजार रूपये में बिका।

 

2 हजार 985 नए आवासों को भारी छूट के साथ किया गया था शामिल
आवासन आयुक्त पवन अरोड़ा ने बताया कि बुधवार नीलामी उत्सव ई-बिड सबमिशन योजना में जयपुर, भरतपुर, डूंगरपुर, भिवाडी और कोटपुतली के 2 हजार 985 नए आवासों को भारी छूट के साथ शामिल किया गया था। इनमें से अधिकांश आवास जयपुर की विभिन्न विकसित योजनाओं में स्थित है।

 

 

प्रताप अपार्टमेंट में अब 1 बीएचके फ्लैट मात्र 8 लाख रूपये में

 

आयुक्त ने बताया कि मंडल की प्रतिष्ठित प्रताप नगर आवासीय योजना के सेक्टर 29 में  स्थित प्रताप अपार्टमेंट (अल्प आय वर्ग) के 21 लाख 38 हजार रूपये कीमत के 1 बीएचके साईज के फ्लैट अब 8 लाख रूपये की न्यूतनम नीलामी दर पर उपलब्ध है। यहां सेम्पल फ्लैट भी बनवाया गया है। इस फ्लैट का सुपर बिल्टअप एरिया लगभग 560 वर्गफीट है। इसके साथ ही प्रताप अपार्टमेंट (उच्च आय वर्ग) के 70 लाख रूपये के 3 बीएचके साईज के फ्लैट अब मात्र 35 लाख रूपये में उपलब्ध है।

 

 

द्वारकापुरी योजना में 1 बीएचके फ्लैट अब मात्र 6 लाख रूपये में

 

आयुक्त ने बताया कि मंडल की प्रतिष्ठित प्रताप नगर आवासीय योजना के सेक्टर 29 में स्थित द्वारकापुरी आवासीय योजना के 9 लाख 97 हजार रूपये कीमत के 1 बीएचके साईज के फ्लैट अब मात्र 6 लाख रूपये की न्यूतनम नीलामी दर पर उपलब्ध है। इन आवासों पर भी पहली बार छूट उपलब्ध कराई गई है। इस योजना में एक फ्लैट का सुपर बिल्डअप एरिया लगभग 358 वर्गफीट है।

 

वीकेंड होम योजना, नायला में 25 प्रतिशत की छूट पर मिल रहें हैं आवास

 

राजस्थान आवासन मंडल द्वारा जयपुर के नायला में विकसित वीकेंड होम योजना में 567 आवास अब 25 प्रतिशत की छूट पर उपलब्ध कराए जा रहे है। अब ये वीकेंड होम मात्र 11 लाख 55 हजार रूपये में मिल रहे है जबकि इनकी पूर्व में कीमत 15 लाख 40 हजार रूपये थी। यह योजना सुरम्य वादियों के बीच स्थित है। मंडल द्वारा यहां जयपुर चौपाटी, ओपन एयर थियेटर और प्रदर्शनी एरिया का निर्माण करवाया गया है। इसके साथ ही इन आवासों में पानी, बिजली की सुविधा के साथ पंखे भी लगवाए गए हैं।

 

 

योजना में कैसे भाग लें : आम आदमी ऑनलाईन बिड के माध्यम से पारदर्शी प्रणाली के तहत आवास खरीद सकेेंगे। आवासन मण्डल के सभी कार्यालयों की हैल्प डेस्क, घर बैठे या ई-मित्र पर जाकर अपनी बिड/नीलामी प्रस्ताव प्रत्येक सोमवार को प्रातः 10.00 बजे से बुधवार सांय 4.00 बजे तक ऑनलाईन प्रस्तुत किया जा सकता है। इन प्रस्तावों को प्रत्येक बुधवार सांय 4.30 बजे ऑनलाईन ही खोला जाता है एवं सफल बिडदाता को किश्तों पर आवास आवंटित किया जाता है। इस योजना से संबंधित नियम, शर्तोें, उपलब्ध आवासों की सूची, आरक्षित दर, छूट का प्रतिशत एवं ऑनलाईन प्रस्ताव देने की प्रक्रिया आवासन मण्डल की वेबसाईट पर देखी जा सकती है। सभी अपार्टमेंट में फ्लैट दिखाने के लिए शनिवार व रविवार को विशेष व्यवस्था रहेगी। प्रताप अपार्टमेंट, द्वारकापुरी योजना में सेम्पल फ्लैट तैयार करवाये गये है।

 

Like Subscribe and Share